Tpm?, TPM Kya hai ? what is tpm In Hindi/TPM full form? 8 pillars of tpm

Tpm Kya hai

TPM Full Form : हेल्लो दोस्तों आप सभी का मेरे वेबसाइट infoinhindi.net में हार्दिक स्वागत है। आज हम एक ऐसे विषय के बारे में बात करने जा रहे है जिसे आप कभी न कभी google में सर्च करते है, जैसे TPM kya hai? TPM full form, Uses of TPM, What is TPM full formwhat is Tpm ? तो आज हम इस बारे में बात करेंगे और इसके बारे में पॉइंट टू पॉइंट जानेंगे कि यह होता क्या है और इसका क्या महत्व है। तो चलिए हम TPM के बारे में जानते है,

Total productive maintenance (TPM) उत्पादन कि अखंडता व प्रणालियों की गुणवत्ता को बनाए रखने व सुधारने के लिए मशीनों, उपकरणों, कर्मचारियों और सहायक प्रक्रियाओं का उपयोग करने की प्रक्रिया है।

What is Tpm (TPM full form)

 TPM full form : Total Productive Maintenance

TPM Full Form In Hindi

TPM Full Form In Hindi : कुल उत्पादक रखरखाव 

What is TPM (Total Productive Maintenance) / कुल उत्पादक रखरखाव क्या है ?

Total Productive Maintenance (TPM) वास्तव में, उत्पादन की अखंडता व प्रणालियों की गुणवत्ता को मजबूत बनाये रखना,  व सुधारने के लिए machine, Equipments, employee व सहायक प्रक्रियाओं का उपयोग करने का प्रक्रिया है। हम इसे साफ शब्दों में कहे, यह सक्रिय व निवारक रखरखाव तकनीकों पर जोर देते हुए कर्मचारियों को अपने स्वयं का उपकरण को बनाये रखने में शामिल करने की आवश्यकता महसूस करती है, कुल उत्पादक रखरखाव सही उत्पादन के लिए कोशिश करती है,

No Break downs (किसी भी तरह का  ब्रेकडाउन नही होना चाहिए)

No stop or running slowly ( किसी तरह का रुकावट व धीमी काम नही होना चाहिए)

No Defects ( किसी तरह का कोई भी product में खराबी नही)

No Accidents (किसी भी तरह का दुर्घटना नही)

इस चार विषय के बारे में बहुत ही सावधानी रखी जाती है, इसके बारे में इस आर्टिकल में नीचे बात करेंगे।

क्योंकि कुल उत्पादक रखरखाव का उद्देश्य downtime को घटा करके उत्पादकता में सुधार करने का है, इसलिए TPM कार्यक्रम को प्रारंभ करना TIME  के साथ आपके समग्र उपकरण प्रभावशीलता (OEE) को प्रभावित करता है, ऐसा करने के लिए निवारक रखरखाव हमेशा सभी के दिमाग मे सबसे आगे होना चाहिए।

Example के लिए ” हम इसे रिपेयर कर देंगे जब यह टूटेगा” की मानसिकता के साथ चलने वाला मशीन कुल उत्पादक रखरखाव के साथ एक विकल्प नही है, एक TPM Program इस मेंटालिटी से छुटकारा पाने में मदद करता है, और इसे एक ऑपरेशन के मुख्य फोकस में मशीनरी डालने में से एक मे बदल देता हूं व इसकी उपलब्धता को बढ़ा देता है।

टीपीएम के माध्यम से OEE में सुधार अक्सर कोर, जैसे निवारक व स्वयं के द्वारा रखरखाव, मशीनरी संचालित करने वाले experience employee व कार्य प्रक्रियाओं को सुरक्षा व मानकीकरण को संबोधित करने के लिए छोटी से छोटी, व बहु विषयक टीमों का गठन किया जाता है, जिसे किसी तरह का समस्या न हो। कुल उत्पादक रखरखाव उत्पादन के साधनों के कुशल और प्रभावी उपयोग पर केंद्रित है जिसका अर्थ है कि सभी विभागों को शामिल किया जाना है। ये छोटी टीमें उपकरण विश्वसनीयता के सहारे उत्पादकता बढ़ाने की ओर है, वही downtime को कम करने के लिए  आपस मे मिलकर काम करती है।

Benefits of Total Productive Maintenance (TPM) कुल उत्पादक रखरखाव के लाभ :

प्रतिक्रियात्मक (Reactive) रखरखाव के लिए प्रतिक्रियाशील से पता चलता है, कि TPM प्रोग्राम स्टार्ट करने का सबसे बड़े लाभों में से एक है। प्रतिक्रियाशील रखरखाव या “Fire Extinguisher” महंगा है, क्योकि आप न केवल मशीनरी की सुधार के लिए बिल पेय करते है, साथ ही असमय Downtime की लागत से भी निपट रहे हैं। तो चलिये हम कुल उत्पादक रखरखाव से होने वाले कुछ डायरेक्ट व इनडायरेक्ट प्रॉफिट में एक नज़र डालते है।

Tpm baare mai adhik jaane Wikipedia se

8 pillars of TPM (Total Productive Maintenance) :

कुल उत्पादक रखरखाव जापान के सेइची नकजिमा ने विकसित किया था,  इस विषय में उनके काम का परिणाम ने 1960 के दशक के अंत और 1970 के दशक की शुरुआत में टीपीएम प्रक्रिया का नेतृत्व प्रदान किया है। निप्पॉन डेन्सो (अब डेंसो), कंपनी जो Toyota के  parts का निर्माण करता है, TPP program को स्टार्ट करने वाले पहले organization में से एक है। यह TPM को स्टार्ट करने के लिए एक इंटरनेशनल लेवल पर स्वीकार किए गए बेंचमार्क के रिजल्ट से हुआ है,। दुबला विनिर्माण तकनीकों को शामिल करते हुए, टीपीएम को 5-एस प्रणाली के आधार पर 8 स्तंभों में बनाया गया है। 5-S प्रणाली एक organization method है जो कि पाँच जापानी शब्दों व उसके अर्थ पर आधारित है

Seiri (organize): कार्यक्षेत्र से अव्यवस्था को खत्म करना

Seiton (orderliness): अपनी जगह और हर चीज के लिए एक जगह का पालन करके आदेश सुनिश्चित करें

Seiso (cleanliness): कार्यक्षेत्र को साफ करें और उसे उसी तरह रखें

Seiketsu (standardize): सभी कार्य प्रक्रियाओं को मानकीकृत करें, जिससे वे सिस्टेमेटिक रहे।

Shitsuke (sustain): लगातार पहले चार चरणों को मजबूत करना

कुल उत्पादक रखरखाव के 8 स्तंभ उपकरण विश्वसनीयता के सुधार करने में मदद के साथ इसके सक्रिय और निवारक तकनीकों पर ध्यान केंद्रित करता हैं। TPM के आठ स्तंभ हैं-  स्वायत्त रखरखाव, केंद्रित सुधार,  योजना बनाई रखरखाव, गुणवत्ता प्रबंधन, प्रारंभिक उपकरण प्रबंधन, प्रशिक्षण और शिक्षा, सुरक्षा, स्वास्थ्य और पर्यावरण, और प्रशासन में टीपीएम। दोस्तों आइये हम प्रत्येक स्तंभ के बारे मे आसानी से समझते है-

1. Autonomous Maintenance (स्वायत्तशासी रखरखाव)

Autonomous Maintenance का अर्थ है, आपके ऑपरेटरों को पूरी तरह से सफाई, चिकनाई व निरीक्षण जैसे daily maintenance के लिए प्रशिक्षित करना, साथ ही यह जिम्मेदारी पूरी तरह उनके हाथ मे सौंप देना। इससे मशीन ऑपरेटरों को अपने उपकरणों के स्वामित्व का अधिकार मिलता है व विशेष उपकरण के बारे में ज्ञान बढ़ता है, यह भी गारंटी होता है कि मशीनरी हमेशा साफ व चिकनाई युक्त रहेगा, विफल होने से पहले मुद्दों की पहचान करके मदद की जाती है, व हाई लेवल के वर्क्स के लिए रखरखाव कर्मचारियों की मुक्ति हो जाती है।

Autonomous maintenance को लागू करने में मशीन को एक baseline की सफाई करना शामिल है जिसे ऑपरेटर को बनाए रखना है, इसमें मशीन के मैनुअल के आधार पर नियमित निरीक्षण करने के लिये technical skills में ऑपरेटर को प्रशिक्षित करना शामिल है, एक बार प्रशिक्षित होने के बाद, ऑपरेटर अपना खुद का निरीक्षण कार्यक्रम निर्धारित करता है। मानकीकरण सुनिश्चित करता है कि सभी लोग समान प्रक्रियाओं व प्रक्रियाओं का पालन करें।

2. Focused Improvement (फोकस में सुधार)

सुधार जापानी शब्द “Kaizen” से बना है। निर्माण में, काइजेन को लगातार  कार्यो व प्रक्रियाओं में सुधार की आवश्यकता होती है। केंद्रित सुधार एक पूरे प्रक्रिया का रूप प्रस्तुत करता है व इसे कैसे fix किया जाए इसके लिए विचार किया जाता है, नियमित रूप से काम करने के लिए एक साथ काम करने की mentality में छोटी टीम प्राप्त करना, उपकरण संचालन से सम्बंधित प्रक्रियाओं में growth fixing TPM के लिए महत्वपूर्ण है। विभिन्न वर्क ग्रुप के माध्यम से क्रॉस फनक्शनल के आवर्ती का पता चलता है।  यह कम्पनी के input को जोड़ने का काम भी करता है। केंद्रित सुरक्षा सुधार की दक्षता को बढ़ाता है, सुधार की प्रक्रिया को दोहराया जाता है जिसे यह टिकाऊ बना रहे।

3. Planned maintenance ( योजना बनाकर रखरखाव)

Planning maintenance में विफलता दर व historic down time जैसे मैट्रिक्स का अध्ययन करके अनुमानित विफलता को फिक्स करना व समय का निर्धारण करना। इसके अतिरिक्त, नियोजित रखरखाव अनुसूचित रखरखाव होने पर इन्वेंट्री बिल्डअप के लिए allow करता है।  इस सक्रिय दृष्टिकोण को लेने से अधिकांश रखरखाव की अनुमति देकर असमय डाउनटाइम कि मात्रा कम हो जाता है, जब मशीनरी उत्पादन के लिए रेडी नही होता है। इन्वेंट्री की सुविधा मिलता है, जिससे आप बेहतर नियंत्रण भागों की पहचान सकते है। पूंजी निवेश में कमी होती है तब अधिकतम क्षमता पर वर्क करते है व लाभ अर्जित हो पाता है।

4. Quality maintenance

यदि रखरखाव की स्थिति नही होती है तब  गुणवत्ता शून्य हो जाता है, गुणवत्ता रखरखाव स्तम्भ काम करने की त्रुटि का पता लगाने व उत्पादन की प्रक्रिया में रोकथाम में केंद्रीत है, यह मूल कारण विश्लेषण का उपयोग करके इस दोष से मुक्त होते है। लगातार त्रुटि का पता लगाने व उसका मेंटेनेंस होता है तब प्रक्रिया और भी विश्वसनीय हो जाता है।

गुणवता रखरखाव का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह दोषपूर्ण उत्पादों को लाइन अप करता है जिससे यह दुबारा घटित न हो। निर्धारित गुणवत्ता रखरखाव के साथ गुणवत्ता के मुद्दों को सम्बोधित किया जाता है, और स्थायी काउंटरमेंशर्स लगाए जाते है, दोषपूर्ण उत्पादों से सम्बंधित दोषों व डाउनटाइम को कम या पूरी तरह से खत्म किया जाता है।

5. Early Equipment Management

शुरुआत में उपकरण रखरखाव प्रबंधन का TPM line, total productive maintenance के माध्यम से प्राप्त किया जाता है। जितने भी knowledge होता है उसे नए उपकरण के डिजाइन में सुधार करने के लिए उपयोग किया जाता है, इनपुट का सही उपयोग किया जाता है जिसे management systematic रहें। आपूर्तिकर्ताओं को स्थिरता बनाये रखना व मशीन को भविष्य के डिजाइन में संचालित करने के तरीके में सुधार करने की अनुमति देता है।

उपकरणों के डिजाइन में बात करते है तब चिकनाई व सफाई को समझना पड़ता है, तब productive समझ आता है। operator को ध्यान रखना पड़ता है कि वह दक्षता में कैसे वृद्धि कर, जिससे उपकरण डेमेज न हो, इसमें स्टार्टअप के मुद्दे कम होता है क्योंकि यह योजनाबद्ध प्रदर्शन स्तर में जल्दी पहुँचता है।

6.Training and education (प्रशिक्षण और शिक्षा):

उपकरण के बारे में ज्ञान की कमी एक टीपीएम कार्यक्रम को बर्बाद कर सकता है। प्रशिक्षण और शिक्षा ऑपरेटरों, प्रबंधकों और रखरखाव कर्मियों पर लागू होती है तथा यह सुनिश्चित करने काम करता है कि हर कोई टीपीएम प्रक्रिया में साथ हो और किसी भी knowledge से सम्बंधित हो, जिससे टीपीएम के लक्ष्य प्राप्त हो सकें। यह वह जगह है जहां ऑपरेटर उपकरण को बनाए रखने और होने वाली समस्याओं की पहचान करना सीखते हैं। रखरखाव टीम सीखती है कि कैसे एक सक्रिय और निवारक रखरखाव नियम को लागू करना है, और प्रबंधक TPM theory, employee development और कोचिंग में अच्छी तरह से समझ जाते हैं। उपकरण पर या उसके पास तैनात कोई भी बिंदु से सम्बंधित समस्या हो, उपकरणों का उपयोग करने से परिचालन प्रक्रियाओं में experience ऑपरेटरों को मदद मिल जाता है।

7. Safety, health and environment (सुरक्षा,स्वास्थ्य और पर्यावरण) :

Safety, health व environment का विशेष ध्यान दिया जाता है जिसे TPM में किसी तरह का दिक्कत न हो क्योकि यह एक ऐसा productive maintenance एरिया है जहाँ ऑपरेटर स्वस्थ हो तभी अच्छे से वर्क करेगा, सेफ्टी रहेगा तभी मशीनरी में वर्क करते समय किसी तरह का दुर्घटना होने पर बचा जा सकता है, environment अच्छा होना चाहिए नही तो पूरा TPM theory फेल हो जाती है, इसलिए इस तीनों का रखरखाव क्षेत्र में बहुत उपयोगी व इस बात का ध्यान रखा जाता है।

8. TPM in administration ( शासन प्रबंध के द्वारा रखरखाव):

अच्छा टीपीएम प्रोग्राम केवल उतना ही अच्छा होता है जितना इसके भागों का योग। कुल उत्पादक रखरखाव को administrative कार्यों में कचरे के क्षेत्रों को संबोधित करने और समाप्त करने से मशीन कि सफाई से हटकर देखना चाहिए। इससे तात्पर्य है ऑर्डर प्रोसेसिंग, प्रोक्योरमेंट और शेड्यूलिंग जैसी चीजों में सुधार करके उत्पादन को बढ़ावा देना है। प्रशासनिक कार्य में manufacturing प्रक्रिया में पहला कदम होते हैं, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि वे systematic और खराब न हों। किसी भी tpm थ्योरी खराब होने की स्थिति में संभावित डाउनटाइम को समाप्त करते हुए लापता भागों को ट्रैक किया जाता है।

Conclusion

दोस्तौ आज हमने Tpm के बारे मै बोहोत बारीकी से देखा, फिर भी अगर आपको कुच इसको समझने मै समय्श्या आ रही है तोह फिर आप हमे कमेंट कर के पुछ सकते है. अगर दोस्तौ आपको यह Article informative लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तौ के साथ शेयर करे.
धन्यवाद

Learn also Resume kaise banaye

Increase your Friendship

33 COMMENTS

  1. Bahut achha information diye hai sir, pura details me bataye hai iske liye dhanyabad aur v naya naya information isi tarah milate rahe aasa karta hu

  2. thnx for this information . mujhko tpm ke bare me kuch nahi pata tha par apko article read karne ke bad mujhe sab kuch aache se malum ho gay . keep it up bhai . and provide this type of valuable information

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here