एन.सी.ई.आर.टी क्या है? एन.सी.ई.आर.टी का फुल फॉर्म क्या है.

तो दोस्तो आप सभी का मेरे वेबसाइट में स्वागत है, अक्सर छात्रों या फिर पेरेंट्स NCERT के बारे में सवाल करते रहते है जैसे NCERT kya hai, NCERT ka full Form क्या है, NCERT full form in hindi, NCERT का क्या कार्य है, आदि सवाल अक्सर करते रहते है, NCERT किसके के लिए कार्य करती है? एन सी ई आर टी की स्थापना कब हुई थी, इसके सिद्धात क्या है, ncert के मुख्य उद्देश्य क्या है, तो दोस्तों आप सही जगह व सही आर्टिक्ल पढ़ रहे है, अंत तक इस आर्टिकल को पढ़ते है तो आपको NCERT से सम्बंधित सारी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से पता चल जाएगा।

जैसा कि आप सभी ने बहुत बार NCERT नाम सुना होगा, या फिर कहि लिखा होगा तो आप पढे होंगे, तो मैं आपको बता दु, NCERT  shiksha के क्षेत्र से जुड़ा हुआ है, और अपने अगर CBSE बोर्ड से पढ़ाई की है, तो NCERT बुक जरूर पढ़े होंगे.

दोस्तौ आज के समय में education हमारे जीवन का अमूल्य हिस्सा है, बिना शिक्षा के हम बेहतर जीवन की कल्पना नही कर सकते है, भारत सरकार द्वारा शिक्षा की बढ़ोतरी के लिए विभिन्न विद्यालयों के माध्यम से प्रचार प्रसार किया गया है। आज हम इस पोस्ट में हम HINDI में NCERT के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानेगे, तो चलिए दोस्तो NCERT के बारे में डीटेल्स में जानते है।।

NCERT क्या है (NCERT Kya Hai in Hindi)

NCERT Kya Hai: एन.सी.ई.आर.टी भारत सरकार शिक्षा मंत्रालय द्वारा निर्मित पाठ्यक्रम सञ्चालनकर्ता है, यह एक Autonomous Body संगठन है, जिसे भारत सरकार द्वारा Societies Registration Act के तहत स्थापित किया गया है.

NCERT (राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद) भारत में साहित्यिक, वैज्ञानिक और धार्मिक शिक्षा से संबंधित एक Organization है। जो कि भारत में CBSE बोर्ड की कक्षा 1 से कक्षा 12वी तक के छात्रों के लिए विभिन्न भाषाओं में सभी विषयों के लिए किताबें संपादित करती है। लगभग 19 स्कूल बोर्ड व 14 स्टेट बोर्ड ने NCERT की बुक पैटर्न को अपनाया है।

निदेशक –  डॉ. श्रीधर श्रीवास्तव

वर्तमान अध्यक्ष      – डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’

सिद्धांत – विद्यया ऽ मृतम्श्नुते

उद्देश्य- शिक्षा में सुधार और गुणवत्ता लाना

मुख्यालय – श्री अरबिंदो मार्ग, नई दिल्ली, पिन कोड- 110016

NCERT Official वेबसाइट –     ncert.nic.in

Full Form of NCERT

NCERT Full Form: एन.सी.ई.आर.टी (NCERT) का full form National Council of Educational Research and Training होता है,  Education System में  रेगुलेशन का कार्य NCERT के द्वारा होता है।

NCERT Full Form in Hindi

NCERT Full Form in Hindi: NCERT का full form या पूरा नाम राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद होता है।

इसके अंतर्गत शिक्षा संबंधी सूचनाओं तथा शैक्षिक ट्रेनिंग (Education Training) आदि प्रदान सुव्यवस्थित तरीके से प्रदान की जाती है, जिससे Education System को NCERT द्वारा आसानी से Manage किया जा सकता है।

एनसीआरटी का इतिहास (NCERT History in Hindi)

एन. सी. ई. आर. टी. (NCERT) को भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा 1961 में निर्मित किया गया है, जिसे एक संगठन व परिषद का रूप दिया गया है, और इसका गठन शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े सभी मामलों, सूचनाओं और विचारों को ध्यान में रखकर किया गया है ताकि शिक्षा में किसी तरह का बाधा न आये। विशेष रूप से NCERT को भारत के 7 राष्ट्रीय केंद्रीय सरकारी शिक्षा संगठनों को आपस मे मिलाकर बनाया गया जो उस समय देश में NCERT परिषद से पहले कार्यरत थे।

7 राष्ट्रीय सरकारी शिक्षा संस्थान (7 National Institute of Government Education) के नाम इस प्रकार है-

ये 7 राष्ट्रीय सरकारी शिक्षा संस्थान NCERT के पूर्व थे हो वर्तमान में NCERT में विलय हो गया है।

1. The Central Institute of Education (केंद्रीय शिक्षा संस्थान)

2. The National Institute of Basic Education (राष्ट्रीय बेसिक शिक्षा संस्थान)

3. The National Fundamental Education Center (राष्ट्रीय मौलिक शिक्षा केंद्र)

4. The Central Bureau of Educational and Vocational Guidance (केंद्रीय शैक्षिक ब्यूरो और व्यावसायिक मार्गदर्शन)

5. The Directorate of Extension Programs for Secondary Education (माध्यमिक शिक्षा के लिए विस्तार कार्यक्रम निदेशालय)

6. The National Institute of Audio-Visual Education (ऑडियो-विजुअल शिक्षा राष्ट्रीय संस्थान)

7. The Central Bureau of Textbook Research (पाठ्यपुस्तक अनुसंधान केंद्रीय ब्यूरो)

NCERT के बनने के पश्चात NCERT के अंतर्गत 1963 में एक राष्ट्रीय विज्ञान प्रतिभा खोज योजना का गठन किया गया है, जिसका उद्देश्य है देश के प्रतिभाशाली छात्रों का सहयोग करना व उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना था, जो निरंतर जारी है। इसके साथ ही NCERT द्वारा एक National Talent Search Examination (NTSE) राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा का आयोजित करता है, जो एक राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता परीक्षा है।।

यह परीक्षा माध्यमिक शिक्षा विद्यालय स्तर के स्टूडेंट्स के लिए कराया जाता है, व इसमें भाग लेने वाले Intelligent Student के लिए भारत सरकार द्वारा छात्रवृत्ति उपलब्ध कराया जाता है।

भारत की पहली राष्ट्रीय शिक्षा नीति को 1968 में मंजूरी मिली थी, इस राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत देशभर में एक समान स्कूली शिक्षा प्रणाली को अपनाने का समर्थन किया गया था, इस नीति के तहत 12 वर्षो तक स्कूली शिक्षा पाठ्यक्रम शामिल हुआ था। वर्तमान में 2020 नई शिक्षा नीति देशभर लागू हो रहा है।

NCERT का उद्देश्य (Purpose of NCERT in Hindi)

एन. सी. ई. आर. टी. (NCERT) का शिक्षा के प्रति मुख्य और महत्वपूर्ण उद्देश्य इस प्रकार है-

1. शिक्षा के क्षेत्र में विशेष रूप से गुणवत्ता व विकास लाना तथा देश के शिक्षा स्तर को उच्च करना व बढ़ावा देना है।

2. भारत सरकार द्वारा शिक्षा और समाज कल्याण को ध्यान में रखते हुए विशेष रूप से स्कूली शिक्षा के संबंध में सलाह व विचार प्रेषित करना व  शिक्षा नीति –निर्धारण करने में मदद करता है।

3. देश में शिक्षा के क्षेत्र में होने वाले परिवर्तन व नए नए अनुसंधान में बढ़ावा देना है व साथ ही सहायता और समन्वय करना है।

4. देश में समय के साथ शिक्षा पाठ्यक्रम में होने वाले बदलाव को ध्यान में रखते हुए लागु करना व देश के विकास में सहयोग देना है।

5. स्कूली शिक्षा पाठ्यक्रम, समाचार पत्र, मॉडल शिक्षा पद्धति और साहित्य पत्रिकाओं को समय समय प्रकाशित करते रहना है।

6. देश के शैक्षणिक संस्थानों, शिक्षा विभाग, विद्यालयों, और सरकारी संगठनों का आर्थिक व मौलिक रुप से सहयोग करना है।

7. विद्यालयों में नए  प्रकार के शैक्षिक तकनीकों और साहित्य, प्रथाओं का प्रचार करना, आधुनिक विज्ञान को बढ़ावा देना व आधुनिक शिक्षा के साथ कदम मिलाना है।

Read also Npa kya hai

NCERT के कार्य (Functions of NCERT in Hindi)

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान व प्रशिक्षण परिषद (NCERT) यह एक राष्ट्रीय शैक्षिक संस्थान है जो भारत सरकार द्वारा संचालित एक कार्यकारी संगठन के रूप में शिक्षा के क्षेत्र में के कार्य करता है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय (शिक्षा मंत्रालय) द्वारा देश की शिक्षा व्यवस्था में नजर रखती है, व देश मे शिक्षा विभाग के कार्यभर की जिम्मेदारी अपने ऊपर लेती है।  वर्तमान में मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल जी है जो राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान व प्रशिक्षण परिषद के अध्यक्ष के रूप में भी सेवारत है।

NCERT के कार्य निम्नलिखित है

1. इस राष्ट्रीय शैक्षिक संस्थान के अंतर्गत स्कूली शिक्षा से जुड़े सभी प्रकार के सेवाओं को बढ़ावा देना का काम करना होता हौ, NCERT का सबसे महत्वपूर्ण कार्य देश के सभी विद्यार्थियों को प्रोत्साहन व उचित मार्गदर्शन प्रदान करना है।

2. समय के साथ होने वाले तकनीकी व शिक्षा बदलाव में देश को प्रोत्साहित करना व नई तकनीकी के बारे में पूरी जानकारी देकर, उसे शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ावा दिया जाता है।

3.  देश व समाज मे शिक्षा के प्रति लोगो को जागरूक करना, ताकि देश के सभी नागरिक उचित शिक्षा ग्रहण कर, शिक्षित हो सकें।

4. नवीनतम वैज्ञानिक व तकनीकी शिक्षाओं को बढ़ावा देना, जो देश के विकास के लिए सही साबित हो, NCERT के अंतर्गत सभी तरह के तकनीकी शिक्षा में सहयोग दिया जा रहा है।

5. Pre- service व In- Service शिक्षक ट्रेंनिग को प्रोत्साहित करना तथा शिक्षकों को नवीन शिक्षा के बारे में अवगत कराना, ताकि शिक्षा व्यवस्था समृद्ध व बेहतर हो व देश का education system मजबूत हो।

6. देश मे अधिकतर सरकारी विद्यालयों में जो केंद्र के अधीन आता है वहाँ NCERT के अंतर्गत प्रकाशित पुस्तकों को शिक्षा के लिए उपयोग किया जाता है, सरकारी प्रतियोगी परीक्षाओं में भी NCERT द्वारा प्रकाशित पुस्तकों का पाठ्यक्रम को शामिल किया जाता है।

NCERT Guidelines 2021 in Hindi

विश्व में फैले Covid -19 वायरस जो की एक भयानक महामारी का रूप ले चूका है, जिसके कारण पुरे विश्व को बहुत समस्या हो रही है, लोगों को बहुत मुश्किल समय का सामना करना पड़ रहा है। महामारी के कारण लोगों में  उदासी, भय, चिंता, असहायता, अनिश्चितता, का भय बढ़ता जा रहा है, साथ ही 2nd वेव तो अभी तबाही मचा दिया है। इसका बुरा प्रभाव Education System पर हो रहा है, ऐसे समय में सरकार द्वारा Online Education की व्यवस्था शुरू की गयी थी वर्तमान में ऑनलाइन पेपर का विचार चल रहा है, जो एक सही रास्ता हो सकता है।

भारत सरकार के अस्वाशन पर NCERT द्वारा शिक्षा से संबंधित नीतियों में बदलाव किया गया है, सरकार द्वारा New Education Policy को प्रकार सुनिश्चित किया गया है।

NCERT और CBSE में अंतर – (Difference between NCERT CBSE in Hindi)

1. NCERT एक राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद है जिसका निर्माण भारत सरकार द्वारा 1961 में किया गया है तथा सीबीएसई Central board of secondary education है यह शिक्षा बोर्ड केंद्र सरकार द्वारा चलाया जाता है!

2. NCERT द्वारा देश में केंद्र और राज्य सरकार स्कूली शिक्षा से संबंधित सूचनाओं, सलाह तथा सहयोग प्रदान किया जाता है , और वही CBSE शिक्षा संबंधित नियमों को निर्धारित व सुव्यवस्थित कराता है परीक्षाएं आयोजित कराने का काम करती है  CBSE का कार्य पाठ्यक्रम समय समय पर होने वाले बदलाव को निर्धारित करना भी होता है।।

3. NCERT द्वारा अपना कोई शिक्षण संस्थान नहीं चलाया जाता है, ये सिर्फ पुस्तक का प्रकाशन करता है, और वही सीबीएसई द्वारा शिक्षण संस्थानों को चलाया जाता है, इसके साथ ही CBSE अपने साथ अन्य स्कूलो को जोड़े रखता है, बहुत सारे केन्द्रीय स्कूल विभिन्न नाम से चल रहे है।

4. CBSE अपने शिक्षण संस्थानों में खुद के बनाये गए पाठ्यक्रम को फॉलो करती है तथा परीक्षाओ को आयोजन करता है, NCERT के आधार पर भारत में पुस्तकें प्रकाशित की जाती है, तथा कई प्रतियोगी परीक्षायें जैसे UPSC, SSC, NEET आदि में भी NCERT पुस्तकों के पाठ्यक्रम से सम्बंधित प्रश्न आते है।

Conclusion

दोस्तौ आज हम लोगो ने इस पोस्ट मे देखा कि NCERT kya hai, NCERT full form in hindI . आज यहा पे हमने Ncert के बारे मे पुरा जानकारी आप लोगो को दी है. अगर आप लोगो को कुछ भी समझ नही आया तोह फिर आप हमे comment कर के सवाल पुछ सकते है. हम आपकी सहयता मै हमेशा हाजिर रहेंगे.
आप लोगो को हमरे साथ अन्त तक बने रहने के लिये धन्यवाद.

Increase your Friendship

2 thoughts on “एन.सी.ई.आर.टी क्या है? एन.सी.ई.आर.टी का फुल फॉर्म क्या है.”

Leave a comment